एशिया के प्रमुख पर्वत, पठार एवं मैदान – Geography Notes in Hindi

Geography Notes in Hindi- इस पोस्ट मे आप “एशिया के प्रमुख पर्वत, पठार एवं मैदान” के बारे मे जानेंगे। यह यूपीएससी (UPSC), स्टेट पीसीएस (State PCS), या अन्य सभी प्रतियोगी परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण है। 

एशिया के प्रमुख पर्वत श्रेणियों की सूची

  • हिमालय
  • सुलेमान पर्वत श्रेणी
  • हिन्दुकुश
  • तियन शान
  • कुनलुन शान
  • अल्ताई पर्वत
  • सयत पर्वत
  • याब्लोनोव्यी पर्वत श्रेणी
  • बर्खोयान्स्क पर्वत श्रेणी
  • चेर्सकोगो
  • कोलयिमा पर्वत श्रेणी
  • एलबुर्ज पर्वत
  • जागरोस पर्वत
  • पौनटीन पर्वत
  • टॉरस पर्वत
  • अराकान योमा

पामीर नॉट एवं अनातोलिया नॉट

नॉट (Knot) का अर्थ है एक ऐसा क्षेत्र जहां कई पर्वतीय सीमाएं मिलती हैं। 

पामीर नॉट: यह मध्य एशिया में स्थित है। इस क्षेत्र में कई महत्वपूर्ण पर्वत श्रेणियाँ समाहित हैं-

  • हिमालय
  • तियन शान
  • काराकोरम
  • कुनलुन
  • हिन्दू कुश

अनातोलिया नॉट: इसे टर्की में “एशियाई टुर्की” कहा जाता है। इनमे स्थित पर्वत श्रेणियाँ – 

  • तौरस पर्वत
  • पोंटिक पर्वत

एशिया के प्रमुख पर्वत श्रेणियों की स्थिति एवं विशेषताएं

हिमालय पर्वत

  • यह नूतनवलित पर्वत है।
  • यह पर्वत भारत के में उत्तर-पूर्वी दिशा में स्थित है।
  • हिमालय एक पर्वत तंत्र है जो भारतीय उपमहाद्वीप को मध्य एशिया और तिब्बत से अलग करता है।
  • यह पर्वत तन्त्र मुख्य रूप से तीन समानांतर श्रेणिया- महान हिमालय, मध्य हिमालय और शिवालिक से मिलकर बना है।
  • हिमालय की सबसे ऊँची चोटी – माउंट एवरेस्ट है। जो कि विश्व की सबसे ऊँची चोटी है।
  • इसकी सबसे विशिष्ट विशेषताएँ इसकी विशाल ऊँचाई, जटिल भूगर्भिक संरचना, बर्फ से ढ़की चोटियाँ, बड़ी घाटी के ग्लेसियर, गहरी नदीं घाटियां और समृद्ध वनस्पति हैं।

सुलेमान पर्वत

  • सुलेमान पर्वत या कोह-ए-सुलेगम, जिसे कैसई भी कहा जाता है। दक्षिणपूर्वी अफगानिस्तान और पश्चिमी पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के उत्तर भाग में स्थित एक प्रमुख पर्वत श्रृंखला है।
  • इसकी किरथर पहाड़िया पाकिस्तान में स्थित है।
  • इसकी सबसे ऊँची चोटी – जरगुन घर है।

हिन्दूकुश पर्वत

  • हिन्दूकुश पर्वत उत्तरी पाकिस्तान के विवादित भाग से मध्य अफगानिस्तान तक विस्तृत एक पर्वत श्रृंखला है।
  • इसका सबसे ऊंचा पहाड़ पाकिस्तान में है। जिसका नाम तिरिच मीर पर्वत है।

तियन शान पर्वत

  • तियन शान पर्वतमाला, जिसे तिब्बती भौतिकी में “त्रिशूल पर्वत” कहा जाता है, जो एशिया महाद्वीप के उत्तर-पश्चिमी हिस्से में स्थित है।
  • यह पर्वतमाला चीन, भूटान, नेपाल, और तिब्बती क्षेत्रों में स्थित है।
  • इसकी सबसे ऊँची चोटी जेन्गिश चोकुसु है।

कुनलुनशान 

  • कुनलुनशान पर्वत चीन के तिब्बती क्षेत्रों में स्थित है।
  • यह पर्वत श्रृंखला एशिया महाद्वीप के उत्तरी हिस्से में स्थित है
  • यह चीन के पश्चिमी क्षेत्रों में 1250 मील तक फैला हुआ है।
  • इस पर्वत’ की सबसे ऊँची चोटी कुनलुन देवी है।

अल्ताई पर्वत श्रृंखला

  • अल्ताई पर्वत चीन, मंगोलिया, रूस, और कजाखस्तान के सीमांतर इलाकों में स्थित है।
  • इसकी स्थिति एशिया महाद्वीप के पश्चिमी हिस्से में है।
  • इरतिश और ओब नदी इसी पहाडों से शुरू होती है।

सयान पर्वत

  • सयान पर्वत रुस, साइ‌बेरिया और मंगोलिया में स्थित है। भौगोलिक दृष्टि से इसके दो खण्ड है- पूर्वी और पश्चिमी।
  • इस पर्वत श्रृंखला की सबसे ऊँची चोटी मोनख सरिदाग है।

याब्लोनोव्यी पर्वत श्रेणी

  • याब्लोनोव्यी पर्वत श्रृंखला की स्थिति साइबेरिया के पूर्वी हिस्से में है, जो रूस के बैकाल झील के उत्तर-पूर्व में है।
  • इसकी सबसे ऊँचा स्थान कौटालाकस्की गोलेट्स है।

बर्खोयान्स्क पर्वत श्रेणी

  • रूस के साइबेरिया प्रदेश में विस्तारित है।
  • इस क्षेत्र में आबादी वाले स्थानों के लिए दुनिया का सबसे कम तापमान दर्ज किया गया है।

एलबुर्ज पर्वत

  • यह पर्वत ईरान में स्थित है।
  • यह एक सुप्त ज्वालामुखी है जो कॉकस क्षेत्र की कॉकस पर्वत श्रृंखला में स्थित है।
  • एलबुर्ज पर्वत पर स्थित देमावंड (Damavand) चोटी पश्चिम एशिया की सबसे ऊँची चोटी है। 

ज़ाग्रोस पर्वत

  • यह ईरान और ईराक की सबसे बड़ी पर्वतमाला है।
  • इसकी सबसे ऊँची चोटी कश-मस्तान है।

अराकान योमा पर्वत

  • यह पर्वत पश्चिमी म्यांमार में स्थित है।
  • यह पर्वत नूतन वलित पर्वत है।
  • इसका निर्माण इंडो आस्ट्रेलियाई प्लेट और बर्मा प्लेट का अभिसरण से हुआ है।
  • इस पर्वत की सबसे ऊँची चोटी  माउंट विक्टोरिया है।
एशिया के प्रमुख पर्वत, पठार एवं मैदान
एशिया के प्रमुख पर्वत, पठार एवं मैदान

Image source: britannica

एशिया के प्रमुख पठार

  • अनातोलिया का पठार
  • ईरान का पठार
  • पोटवार का पठार
  • तिब्बत का पठार
  • शान का पठार
  • लोयस का पठार
  • मंचुरिया का पठार
  • साइबेरिया का पठार
  • कोराट का पठार
  • मंगोलिया का पठार
  • कोराट का पठार

एशिया के प्रमुख पठारों की स्थिति एवं विशेषताएं

अनातोलिया पठार

  • अनातोलिया का पठार तुर्की में पौंटाइन और टॉरस पर्वत के बीच में स्थित है।
  • यह पठार एक अंतर-पर्वतीय पठार है।
  • इस पठार पर शुष्क परिस्थितियाँ पाई जाती है।
  • तुर्की की राजधानी अंकारा इस पर स्थित है।
  • इसे एशिया का माइनर भी कहा जाता है।

ईरान का पठार

  • ईरान का पठार एलबुर्ज और जागरोस पर्वत श्रृंखला के बीच स्थित है।
  • यह एक अंतरपर्वतीय पठार है।
  • ईरान के पूर्वी क्षेत्र में शुष्क परिस्थितियाँ पाई जाती है।
  • ईरान के पठार पर दश्त-ए-लुत और दस्त-ए-कविर मरुस्थल पाये जाते हैं।
  • ईरान के पठार पर ज्वालामुखी से जीवाश्म ईंधन पाया जाता है।

पोटवार का पठार

  • यह पठार पाकिस्तान में स्थित है।
  • इस पर पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद और पाकिस्तान का रावलपिंडी स्थित है।
  • इस पर जीवाश्म ईंधन पाया जाता है।

तिब्बत का पठार

  • तिब्वत का पठार पूर्वी हिमालय पर्वत और कुनलुन शान के बीच स्थित है।
  • यह पठार विश्व का सबसे बड़ा और ऊँचा पठार है।
  • इस पठार को दुनिया का छत कहा जाता है।
  • इस पर बहुत से हिमनद (ग्लेसियर) पाये जाते हैं।
  • तिब्बत के पठार से ब्रहमपुत्र नदी, सिंधु नदी, सतलज नदी और यांग्त्सी नदी का उद्मम होता है।

शान का पठार

  • शान का पठार म्यांमार में स्थित है।
  • सीसा, जस्ता, और चाँदी जैसे खनिज पाये जाते हैं।
  • इससे साल्विन नदी का उद्गम होता है।

लौयस का पठार

  • यह पठार पूर्व चीन में स्थित है।

मंचूरिया का पठार

  • यह पूर्वी एशिया का एक विशाल क्षेत्र है जिसका विस्तार चीन, कौरिया तथा रूस के इलाकों में है।

मंगोलिया का पठार

  • यह मध्य एशिया में स्थित है।
  • यह उत्तर में मंगोलिया और दक्षिण में चीन के भीतरी मंगोलिया राज्य के दरमियान बंटा हुआ है।

कोराट का पठार

  • यह वियतनाम, लाओस, थाईलैण्ड के पूर्वी भाग में स्थित है।

एशिया के प्रमुख मैदान

  • मेसोपोटामिया का मैदान
  • मंचूरिया का मैदान
  • तुरान मैदान
  • चीन का बृहत मैदान
  • गंगा का मैदान
  • साइबेरिया का मैदान

एशिया के प्रमुख मैदानों की स्थिति एवं विशेषताएं

मेसोपोटामिया का मैदान

  • मेसोपोटामिया का मैदान तीग्रिस और इयूफ़्रेटीस नदी के घाटी में स्थित है।
  • यह मैदान मुख्यतया इराक मैं स्थित है।
  • इस मैदान में जीवाश्म ईंधन पाये जाते हैं।
  • विश्व की प्राचीनतम सभ्यताओं के विकास के कारण मेसोपोटामिया  के मैदान को सभ्यता का पालना भी कहा जाता है।

मंचूरिया का मैदान

  • मंचूरिया का मैदान चीन के उत्तर-पूर्वी हिस्से को कवर करता है। 
  • इस मैदान में लौह अयस्क के भण्डार पाये जाते हैं।
  • कृषि का प्रमुख और उपजाऊ क्षेत्र होने के कारण इस मैदान, को चीन का रोटी क्षेत्र भी कहा जाता है।

तुरान का मैदान

  • तुरान का मैदान मध्य एशिया में सिर दरिया और अमु दरिया नदी के घाटियों में स्थित है।
  • यह मैदान तुर्कमेनिस्तान, उजबेकिस्तान, कजाखस्तान, किर्गिज़स्तान, और अफगानिस्तान के कुछ हिस्सों को कवर करता है।
  • इस मैदान में किजिल कुम मरुस्थल और कारा कुम मरुस्थल पाए जाते है। 

चीन का वृहद मैदान

  • चीन का मैदान यांगत्सी नदी और सिकियांग नदी घाटी में स्थित है।
  • यह चीन के पूर्वी भाग में है।
  • इसका निर्माण यांगत्यी और सिकियांग नदी के द्वारा होता है।

गंगा का मैदान

  • यह भारत के उत्तरी-पूर्वी भाग में स्थित है।
  • यह भारत के बिहार, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल में है।
  • यह जलोढ़ मिट्टी से विस्तृत है।

साइबेरिया का मैदान

  • साइबेरिया का मैदान रूस में यूराल पर्वत से लीना नदी तक विस्तृत है।
  • साइबेरिया के मैदान ओब नदी, येनिसे नदी और लीना नदी के घाटियों में स्थित है।
  • यह मैदान पथरीला है (यह कृषि के लिये अनुपयुक्त है।) 

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 3.7 / 5. Vote count: 3

No votes so far! Be the first to rate this post.

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

Search

Join Our Social Media

Enable Notifications OK No thanks